BREAKING NEWS
Search

रातों रात काट दिया देव बृक्ष पीपल – गुस्साई भीड़ सुरकंडा मन्दिर के दरबार मे- विभाग ने साधी चुप्पी।

1810

देवभूमि उत्तरकाशी के चिन्यालीसौड़ में उस वक्त लोगो की आंखे खुली की खुली राह गयी जब उनके सुरकंडा मंदिर के पास बर्षो पुराना पीपल का पेड़ रातों रात काटकर साफ कर दिया गया।

गिरीश गैरोला

चिन्यालीसौड़ नगर पालिका सभासद नरेंद्र सिंह नेगी ने बताया कि पिपल मंडी के पास स्थानीय लोगो का सुरकंडा देवी का मंदिर है मंदिर के पास वर्षों से मौजूद पीपल के पेड़ के पास देवी देवताओं से जुड़े समान रखे जाते रहे है। बीती रात किसी अज्ञात व्यक्ति द्वारा पीपल के पेड़ को काटकर रातों रात ट्रक में लादकर बेचा जा चुका है। 

समाचार इलाके में आग की तरह फैल गया लोगो का गुस्सा सातवें आसमान पर चला गया।दरअसल पीपल के पेड़ पर हथियार चलाना ही पाप समझ जाता है ऐसे में पूरे पेड़ को ही साफ करवा दिया गया तो गुस्सा जायज है।

सुरुवती तौर पर लोगो ने पूछताछ की तो वन विभाग के छोटे कर्मचारियों द्वारा पेड़ के सूखे हो जाने की बात बताई गई किन्तु लोगो की भीड़ और उनके गुस्से को देखते हुए वे फिर साइलेंट हो गए।एसडीएम डुंडा आकाश जोशी ने बताया कि उनके द्वारा भी किसी व्यक्ति को पेड़ गिराने की अनुमति नही दी गयी है फिर भी उन्होंने अपना पूरा स्टाफ इस पर लगा दिया है ताकि मालूमात हो सके।

उन्होंने बताया कि पेड़ काटने की अनुमति वन विभाग द्वारा दी जाती है और उनके स्तर से बस सुरक्षा के लिहाज से आख्या भर मांगी जाती है।मौके पर लोगो की गुस्साई भीड़ जमा है।

थाना धरासू पुलिस और राजस्व की टीम वन विभाग के कर्मचारियों के साथ मौके पर है।सूत्रों की माने तो इलाके में अवैध अतिक्रमण का रास्ता क्लियर करने के लिए भू माफियाओं द्वारा इस कृत्य को अंजाम दिया गया है।

वन विभाग जे अधिकारियों से वार्ता नही हो सकी।




Leave a Reply

error: Content is protected !!