BREAKING NEWS
Search

महा कौथिग में दिखी गढ़वाल मंगसीर बग्वाल के भैलो की झलक

281

महाकौथिक में दिखी उत्तरकाशी की मंगसीर बग्वाल भैला संस्कृति झलक “
इंदिरा पुरम ग़ाज़ियाबाद नवें महाकौथिग के सातवें दिन मंच पर हुई उत्तरकाशी मंगसीर बग्वाल भेला नृत्य जिसमें पारंपरिक संस्कृति आग के भेला से नाचते, खेलते बग्वाल का नृत्य दर्शकों ने बड़ी प्रशंसा की उत्तरकाशी

हरीश असवाल नई दिल्ली

काशीविस्वनाथ जी के महंत अजय पूरी , गोपाल भंडारी टीम ने प्रवासीयों का धन्यवाद किया और साथ में अपने गाँव लौटने का अव्हान किया , आज के कार्यक्रम का विशेष आकर्षण रहा उत्तरकाशी से आये टीम का भेला नृत्य जो सदियों से उत्तराखंड की संस्कृति का महत्वपूर्ण अंग रहा है पीढ़ी दर पीढ़ी चला आ रहा है।प्रथम सुबह पारी कॄषि एवं स्वरोजगार काउंसलिंग कार्यक्रम का आयोजन किया गया जिसमे महाकौथिग स्टॉल विक्रेताओं द्वारा कृषि उत्पादकों का ब्यौरा व सुझाव दिए साथ ही अपने अनुभव साझा किए गए जिससे स्वरोजगार के अवसरों की विवेचना की गई जिसमें जैविक खेती उत्पादन के बारे मे बताया गया। उत्तराखंड से आये कडाकोटी द्वारा नशा मुक्ति,शिक्षा जागरूकता,पर प्रभावशाली कार्यो की भी जानकारी दी गयी इसमें उत्तराखंड सभी व्यापारियों ने भाग लिया इस कार्यक्रम के संयोजक चंदन सिंह गुसाईं जी रहे
शाम के सत्र के आयोजनकर्ता अलंकार गुप्ता जी व बट्टूलाल ज्वैलर्स रहे साथ ही समाजसेवी अनिल बलूनी जी अतिथि उपस्थित रहे और साथ में समाजसेवी अनिल पंत , नंदन सिंह रावत , आनंद जोशी, प्रताप थलवाल, हरीश असवाल ,मोहन जोशी. कुलदीप भंडारी, महक आर्य, सोनू वर्मा, मौजूद रहे, मुख्य कलाकार,गायककार ,माया उपाध्याय, जितेंद्र तोमकयाल, अमित मस्तु बडोनी, सुनील थपलियाल, निधि राणा, उपस्थित रहे।




Leave a Reply

error: Content is protected !!